Med

Depressionसे जुड़ी रोचक तथ्य – Study Center – Medium

डिप्रेशन के लक्षण

Depression

डिप्रेशन एक सामान्य बीमारी है जिसमें लगातार उदासी बने रहते हैं और वह गतिविधियां जिन्हें करने में आप आनंद महसूस करते हैं उसमें आपकी रूचि खत्म हो जाती है🤦‍♀ साथ ही साथ रोजाना का किए जाने वाले कार्य में भी आप अपने आप को असमर्थ महसूस करते हैं😒, इसके अलावा हमेशा थके रहते हैं , कम सोने लगते हैं, चिंता में रहते हैं 😓, concentration मैं कमी आती है, बेचैनी निराशा की भावना या फिर आत्महत्या करने की कोशिश करते हैं👀.

क्या आपको पता है डिप्रेशन के कारण कितने लोग पीड़ित हैं और भारत में कितने लोगों की डिप्रेशन के कारण मौत हो जाती है, किस उम्र के लोग इसके सबसे बड़े शिकार है?

भले ही डिप्रेशन को इतना बड़ा प्रॉब्लम नहीं माना जाता पर डिप्रेशन भारत के लिए ही नहीं पूरी दुनिया के लिए एक गंभीर विषय है. “ World Health Organisation” का अनुमान है कि पूरी दुनिया में 35,0000000 से भी ज्यादा लोग डिप्रेशन से पीड़ित है😲. इसका मतलब दुनिया का हर 20 में से एक व्यक्ति डिप्रेशन का शिकार है🙁.1945 की तुलना में आज डिप्रेशन से 10 गुना ज्यादा लोग पीड़ित है.
 एक अध्ययन में ऐसा पाया गया कि जो लोग इंटरनेट पर अधिक समय बिताते हैं उनकी अकेले उदास और मानसिक रूप से अस्थिर होने की संभावना ज्यादा हो जाती है🙄.
 पूरी दुनिया में ज्यादातर लोग डिप्रेशन को 25 से 29 साल की उम्र में महसूस करते हैं.बर्थ कंट्रोल के लिए हार्मोनल नेट का उपयोग करने वाली महिलाओं में डिप्रेशन की शिकायत और महिलाओं की तुलना अधिक है. लगभग 10% पुरुष पिता बनने के बाद डिप्रेशन के सिम्टम्स की शिकायत करते हैं.
 डिप्रेशन के कारण आप 3 से 4 गुना ज्यादा सपने देखने लगते हैं😮.

डिप्रेशन की दवा

दुनिया के और देशों की तुलना में आइसलैंड सबसे ज्यादा एंटी डिप्रेशन का इस्तेमाल करता है. यह डिप्रेशन के उपचार के लिए उपयोग की जाने वाली दवा है. एक ऑनलाइन रिपोर्ट के अनुसार PLACEBO 31% से 39% जबकि ANTI DEPRESSION 46% से 54% तक प्रभावशाली है.

इसके अलावा आप योगा, एक्सरसाइज करें और जितना हो सके अपने आप को किसी भी काम में व्यस्त रखें.

डिप्रेशन का पैसे से लेना देना है या नहीं?

बहुत से रिपोर्ट्स में आपने सुना होगा कि डिप्रेशन का पैसा से लेना देना है पर ऐसा बिल्कुल नहीं है क्योंकि दुनिया के सबसे प्रसिद्ध और पैसे वाले लोग आपको डिप्रेशन के शिकार मिल जाएंगे🧐.

देश विदेश

फ्रांस में पांच में से एक व्यक्ति ने डिप्रेशन का अनुभव किया है😯 जो इससे दुनिया का सबसे डिप्रेस्ड देश बनाता है. दूसरे नंबर पर अमेरिका आता है.
National Crime Report Bureau के आंकड़े बताते हैं की बेंगलुरु में हर साल 100000 में से 35 लोग डिप्रेशन के कारण आत्महत्या करते हैं😓.

World Health Organisation के रिपोर्ट के अनुसार भारत दुनिया का छठा सबसे डिप्रेस्ड देश है😰.

80% तक सुसाइड डेट का कारण डिप्रेशन की अवस्था होती है.इसीलिए अगर आप डिप्रेशन के शिकार हैं तो बेशक आपको डॉक्टर के पास जाने की जरूरत है.


Source link
Tags
Back to top button
close
Thanks !

Thanks for sharing this, you are awesome !

Pin It on Pinterest

Share This

Share this post with your friends!